दिल..




दर्द गुस्ताख हुआ जाता है...

बात सुनता नहीं मेरी कोई.
.
नन्हें बच्चे की तरह ज़िद्दी है

करवटें रात भर नहीं सोई

Comments

Popular posts from this blog

घायल शब्द

तुम्हारे नाम की स्याही

सिलवटें